करन जौहर को कभी भी पूछताछ के लिए पुलिस नहीं बुलाएगी- टीम कंगना रनोट!

कई इंटरव्यू में कंगना यह सवाल उठा चुकी हैं कि करन जौहर को मुम्बई पुलिस पूछताछ के लिए क्यों नहीं बुलाया।

  • कंगना रनोट की टीम के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से यह बात एक यूजर के ट्वीट पर रिप्लाई स्वरूप किया।
  • अब तक इस मामले में 37 लोगों से पूछताछ हो चुकी, इसमें आदित्य चोपड़ा, राजीव समंद जैसे बड़े बड़े नाम शामिल हैं।

करन जौहर को सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में पूछताछ के लिए न बुलाने पर टीम कंगना रनोट ने महाराष्ट्र सरकार पर हमला किया है। टीम कंगना रनौत का दावा है कि आदित्य ठाकरे जो कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे है वो करण के दोस्त हैं। उन्हें इसलिए भी कभी पुलिस स्टेशन नहीं बुलाया जाएगा। कंगना रनोट के टीम के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से यह दावा एक यूजर के ट्वीट पर रिप्लाई में किया गया है।

ट्विटर यूजर का सवाल यह था!

ट्विटर यूजर जिसका सुमित ठाकुर है उसने करन जौहर की फोटो शेयर करते हुए लिखा था, “35 दिन हो गए हैं और अब भी सबसे बड़े सस्पेक्ट शातिर करन जौहर को सुशांत सिंह राजपूत केस में पूछताछ के लिए नहीं बुलाया गया है। एडवोकेट रसपाल सिंह रेणु जी के जरिए मैं मुंबई पुलिस के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में पीआईएल डालने जा रहा हूं। ताकि पुब्लिक हित में स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच हो पाए।”

क्या रिएक्शन था टीम कंगना रनौत का?

रिएक्शन में कंगना की टीम ने ट्वीट करते हुए लिखा, “वे उन्हें कभी भी उन्हें नहीं बुलाएंगे। क्योंकि करण आदित्य उद्धव ठाकरे के बहुत अच्छे दोस्त हैं। सरकार उनकी है और उन्होंने कंगना के इंटरव्यू से पहले ही यह केस क्लोज कर दिया। ये इस बात का प्रूफ है कि आदित्य अपने फ्रेंड को बचा रहे हैं।”

कई इंटरव्यू में कंगना उठा चुकी है ये सवाल!

कंगना सुशांत की मौत के बाद कई इंटरव्यू में यह प्रश्न उठायी हैं कि करन जौहर को पुलिस पूछताछ के लिए क्यों नहीं बुला रही है? कुछ दिनों पहले एक इंटरव्यू में उन्होंने करन के अलावा आदित्य चोपड़ा, राजीव समंद और महेश भट्ट का नाम भी गुटबाजी करने वालों में जोड़ा था और बोला था कि मुंबई पुलिस को इनसे भी पूछताछ करनी चाहिए। कंगना यही नहीं रुकी यहाँ तक बोल चुकी हैं कि अगर वे अपनी बात साबित नहीं कर सकी तो मिला हुआ पद्मश्री सरकार को वापस करने के लिए रेडी हैं।

37 लोगों से अब तक हो चुकी पूछताछ!

14 जून को सुशांत सिंह राजपूत अपने मुंबई स्थित फ्लैट में मृत मिले थे। विसरा और पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में यह साफ हो गया है कि सुशांत ने आत्महत्या ही की थी। पुलिस जांच में भी उनके डिप्रेशन में होने की बात कही गयी है। सुशांत सिंह राजपूत डिप्रेशन में क्यों थे? और सुशांत ने सुसाइड जैसा काम क्यों किया? इन सवालों के जवाब के लिए पुलिस पूछताछ करीब 37 लोगो से कर चुकी है। 37 लोगो में कई बड़े बड़े नाम शामिल हैं:-

  • पुलिस ने सुशांत के दोस्त और फिल्ममेकर रूमी जाफरी को 23 जुलाई को पुलिस स्टेशन बुलाया था। पुलिस को जाफरी ने बताया कि सुशांत के डिप्रेशन की बात उन्हें 6 महीने पहले पता चली थी, रिया चक्रवर्ती जो कि उनकी गर्लफ्रैंड रह चुकी है उन्होंने उन्हें ये बात बताई थी।
  • मुंबई पुलिस ने 21 जुलाई को फिल्म क्रिटिक और वरिष्ठ पत्रकार राजीव मसंद से 8 घंटे से ज्यादा पूछताछ कर चुकी है। सुशांत सिंह राजपूत के करीबियों ने यह भी आरोप लगाया है कि राजीव मसंद सुशांत की फिल्मों को निगेटिव रेटिंग दिया करते थे। किसी के इशारे पर वो उनके खिलाफ निगेटिव ब्लाइंड आर्टिकल भी लिखा करते थे। इसे लेकर सुशांत दुखी और परेशान रहा करते थे।
  • सुशांत का इलाज कर रहे तीन साइकैट्रिस्ट और एक साइकोथेरेपिस्ट के बयान भी दर्ज किए गए थे। एक साइकैट्रिस्ट ने ये भी बताया कि सुशांत बाइपोलर डिसऑर्डर नाम की एक बीमारी से गुज़र रहे थे। वहीं, अन्य डॉक्टर्स के अनुसार, उनकी लाइफ बहुत ही तनाव से भरा था। हालांकि, यह तनाव सुशांत को क्यों था? इस बात का जवाब कोई भी डॉक्टर नहीं दे पाए।
  • मालिक यशराज फिल्म्स के और प्रोड्यूसर आदित्य चोपड़ा से वर्सोवा थाने में मुम्बई पुलिस ने पूछताछ की थी। दरअसल, चोपड़ा के साथ सुशांत ने तीन फिल्में ‘शुद्ध देसी रोमांस’, ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी’ और ‘पानी’ साइन की थी। मगर ‘पानी’ नही बन पाया। इसे लेकर ही आदित्य से सवाल-जवाब किए गए थे। इसमें आदित्य ने कहा कि यह फिल्म डायरेक्टर शेखर कपूर के साथ क्रिएटिव डिफरेंस के चलते नहीं बन पाई थी।
  • अपना बयान शेखर कपूर मुंबई पुलिस को मेल कर भी दिए हैं। उन्होंने जवाब में लिखा था कि ‘पानी’ बंद होने के बाद सुशांत को काफी धक्का लगा था। सुशांत इतना टूट गए थे कि डिप्रेशन में चले गए। क्योंकि पानी के लिए सुशांत ने अपने बहुत समय दे दिए थे और इसके चलते कई बड़े ऑफर भी ठुकरा दिए थे। इन सब के चलते शेखर को पूछताछ के लिए पुलिस स्टेशन बुलाया जा सकता है।
  • ‘सुशांत ने पानी के लिए संजय लीला भंसाली की 4 फिल्में छोड़ी दी थीं। भंसाली ने यह खुलासा पुलिस को दिए बयान में किया था। भंसाली ने कहा, “मैंने सुशांत को जो 4 फिल्में देने के ऑफर की थीं, वे ‘गोलियों की रासलीला रामलीला’, ‘बाजीराव-मस्तानी’, ‘रीड’ (जो अभी बनी नहीं है) और ‘पद्मावत’ थीं। जब ‘रामलीला’ बनाने की बात हो रही थी तो उस वक्त सुशांत YRF के कॉन्ट्रेक्ट में बंधे थे और ‘पानी’ के लिए वर्कशॉप कर रहे थे। ऐसे ही ‘बाजीराव-मस्तानी’, ‘रीड’, और ‘पद्मावत’ (जिसमें शाहिद कपूर ने रोले निभाये थे) के लिए भी मैंने सुशांत को कांटेक्ट किया था, मगर इन सभी फिल्मों की तारीख भी उन्होंने पहले से ‘पानी’ को दे दी थीं।’
  • इसके अलावा यशराज फिल्म के कुछ पूर्व अधिकारी, कास्टिंग डायरेक्टर शानू शर्मा, टैलेंट मैनेजर रेशमा शेट्टी, गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक चक्रवर्ती, सुशांत का घरेलू स्टाफ, मैनेजर, पीआर टीम, एक्स मैनेजर, दोस्त, को-स्टार और फैमिली के मेम्बर से भी पूछताछ की जा चुकी है।
  • कंगना रनोट और शेखर कपूर ने अपने अपने बयानों में सुशांत की मौत के लिए बॉलीवुड में फैले नेपोटिज्म को कारण बताया है। पिछले दिनों एक इंटरव्यू में कंगना ने कहा था कि उनके पास नोटिस आया है, लेकिन फिलहाल वे अपने घर मनाली में हैं। इसलिए बयान देने नहीं जा सकतीं है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *