Bihar Police Update: बिहार पुलिस को मुम्बई में छिप के रहना पड़ रहा है!

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले की जांच कर रही बिहार की एसआईटी सिर्फ 6 पन्नों की FIR के कागज ही लेकर महाराष्ट्र गई हुई थी, मगर इन्वेस्टिगेशन की यह फाइल बहुत ही मोटी हो गयी है। इन्वेस्टिगेशन के दौरान लोगों द्वारा दर्ज किये गये बयान सुशांत सिंह राजपूत के तीनों बैंकों के अकाउंट, यूपीआइ पेमेंट का स्टेटमेंट , चार्टर्ड अकाउंटेंट के लेजर बैलेंस की कॉपी के कुल 50 पन्नों का रिकार्ड तैयार हो चुका है, इसमे कई ठोस सबूत इकठ्ठे हैं। सूत्र के अनुसार 13 पन्नों में सुशांत सिंह और उनकी गर्लफ्रैंड अंकिता लोखंडे के बीच वाट्सऐप पर हुई चैटिंग का स्क्रीनशॉट है। एक प्रमुख गवाह से टेलीफोन पर हुई बातचीत और 6 लोगों के रिकॉर्ड बयान को भी कागज पर नॉट किया गया है।


बीएमसी पटना पुलिस की एसआईटी को तलाश रही
पटना पुलिस की एसआईटी अब महाराष्ट्र पुलिस और बीएमसी की रडार पर । सोमवार को बीएमसी के आलाधिकारी पटना पुलिस की टीम को दिनभर ढूंढती रही। पटना पुलिस टीम को दोपहर में इस बात का शक हो गया। एसआईटी को लगा कि अगर ऐसा कुछ हुआ तो इन्वेस्टिगेशन पर फर्क पड़ सकता है। लिहाजा पटना पुलिस की एसआईटी के महाराष्ट्र के ऑफिसर्स पर भारी पड़ गए और उन्हें अपनी भनक भी नहीं लगने दी।

सूत्रों के अनुसार पटना पुलिस टीम ने कुछ देर तक छानबीन करने के बाद खुद को अंडरग्राउंड कर लिया। बीएमसी की टीम , पटना पुलिस की टीम की ढूंढने कई होटलों में पहुंची। वही महारष्ट्र पुलिस का सहयोग भी मिल रहा था, लेकिन फिर भी पटना पुलिस टीम के ऑफिसर्स ने होशियारी दिखायी और उनके सामने नहीं आए। एसआईटी की एक्विरी को प्रभावित करने के लिए ऐसा किया गया था । रविवार को महारष्ट्र पहुंचे पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी को भी महारष्ट्र पुलिस के इशारों पर बीएमसी ने उन्हें जबरन क्वारंटाइन कर दिया । 

बीएमसी के ऑफिसर्स बाइक से तलाश रहे थे ।
सूत्रों के अनुसार बीएमसी के कई ऑफिसर्स को पटना पुलिस टीम की खोज में लगाया गया था। कुछ ऑफिसर्स बाइक से पटना पुलिस टीम को खोजने निकले थे। यहां तक बीएमसी के हाथों में पुलिस टीम के नमो की लिस्ट भी थी। उन्होंने कुछ रेस्टोरेंट में भी खोजा । बांद्रा से लेकर अन्य इलाकों तक बीएमसी द्वारा पटना पुलिस टीम को अपराधियों की तरह ही खोजा जा रहा था। 

उनके साथ आये बिहार पुलिस के बड़े ऑफिसर्स
इस केस को लेकर पटना पुलिस का साथ दिया बिहार पुलिस के डीजीपी ने । बिहार पुलिस के डीजीपी ने कहा कि जानबूझकर उनकी एसआईटी टीम को ढूंढा जा रहा है, ताकि एक्विरी को प्रभावित किया जा सके। पटना पुलिस की टीम एक जगह ही अंडरग्राउंड हो गई। इतनी कठिनाइयों के बाद भी पटना पुलिस टीम पूरी शिद्दत के साथ महाराष्ट्र में अपना काम कर रही है। बिहार पुलिस के कई अन्य बड़े ऑफिसर्स बीएमसी और मुम्बई पुलिस के इस व्यव्हार से नाराज दिखे।

Follow Filmy Masala for more  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *