सुशांत के पिता ने 25 feb को मुम्बई पुलिस को कंप्लेन की थी की, सुशांत की जान को खतरा है।

स्वर्गीय एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को डेढ़ महीने से भी ऊपर ही हो गया है और उनकी सुसाइड के मामले में छानबीन चल रही है। सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह द्वारा रिया चक्रवर्ती के अगेंस्ट पटना में एक एफआईआर भी दर्ज कराने के बाद अब सुशांत सुसाइड केस मामले में अब बिहार पुलिस भी सक्रिय हो चुकी है। वहीं, अब सुशांत सिंह के पिता केके सिंह ने अपना एक वीडियो जारी किया है, इस वीडियो में वे कह रहे हैं कि , 25 फरवरी को उन्होंने मुम्बई के बांद्रा पुलिस को अलर्ट किया था कि सुशांत की जान खतरे में है लेकिन इस पर कोई एक्शन नहीं लिया गया ।

Pic credit: sushant singh rajput instagram

सुशांत सिंह के पिता केके सिंह ने इस वीडियो में कहा की, ’25 फरवरी को मैंने मुम्बई के बांद्रा पुलिस को अलर्ट किया था कि मेरे बेटे की जान का खतरा है लेकिन मुम्बई पुलिस ने कुछ नहीं किया। 14 जून को जब मेरे बेटे सुशांत की जान चली गई तब मैंने 25 फरवरी के अलर्ट में नामित लोगों के खिलाफ करवाई करने के लिए कहा लेकिन मुम्बई पुलिस ने 40 दिन बीत जाने के बाद भी उन्होंने इस केस पर कोई एक्शन नहीं लिया । इन सब के बाद मैं पटना गया और अपने पास के थाने में एक एफआईआर दर्ज की। बिहार की पटना पुलिस तुरंत ऐक्शन में आई लेकिन अब मुजरिम बच रहे हैं। उन सभी को चाहिए कि पटना पुलिस की टीम की मदद करें।’

बता दें कि सुशांत सिंह के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती पर अपने बेटे सुशांत को अपने प्यार में फंसाकर उसके पैसे निकलवाने का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं, उन्‍होंने रिया चक्रवर्ती पर अपने बेटे की सुसाइड के लिए उकसाने और परिवार से दूर करने का भी आरोप लगाया है । वहीं, सुशांत के परिवार का कहना है कि सुशांत सिंह को आत्महत्या के लिए उकसाया गया, उनके साथ धोखा किया गया , और उन्हें प्रताड़ित भी किया गया,

14 जून को सुशांत सिंह राजपूत ने को मुंबई में बांद्रा स्थित अपार्टमेंट में फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया थी। इस सुसाइड केस में मुंबई पुलिस छानबीन कर रही है। पुलिस ने इस केस में महेश भट्ट, मुकेश छाबड़ा, संजना सांघी, शेखर कपूर, अपूर्व मेहता, रिया चक्रवर्ती , रूमी जाफरी, आदित्‍य चोपड़ा, संजय लीला भंसाली जैसे बड़े नामों से भी पूछताछ कर चुकी है।

Follow Filmy Masala for more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *